यात्रा विवरण:

अवधि:14 दिवसीय

प्रस्थान:07 अक्टूबर 2022

प्रस्थान शहर:नई दिल्ली

किराया:23,000/- प्रति व्यक्ति

एडवांस बुकिंग

प्रति व्यक्ति 1,001 जमा कर यात्रा बुक करें।

Book Now Download Tour

रामेश्वरम् धाम, गोवा, कोचीन, त्रिवेन्द्रम् एवं तीर्थयात्रा विवरणावली

यह स्पेशल तीर्थ यात्रा 07 अक्टूबर 2022 को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से प्रारम्भ होगी।

स्टेशन दिनांक दर्शनीय स्थल
नई दिल्ली पहला दिन दिल्ली से दोपहर 12 बजे सुबह प्रस्थान करेगी।
मल्लिकार्जुनमल्लिकार्जुन तीसरा दिन मल्लिकार्जुन ज्योर्तिलिंग दर्शन (बस द्वारा विजयवाड़ा से प्रस्थान)
तिरुपतिबालाजीतिरुपतिबालाजी चौथा दिन तिरुपति बाला जी (तिरुमला मन्दिर पहाड़ी पर स्थित है।) रेणिगुन्टा से बस द्वारा। (तिरुपति बाला जी दर्शनाथ यात्री अपने साथ् में आधार कार्ड की मूल प्रति अवश्य साथ लावें।)
चैन्नई	चैन्नई पांचवा दिन पार्थ सारथी मन्दिर, कपालेश्वर महादेव।
रामेश्वरम् धाम छठवां दिन समुद्र स्नान, रामकुण्ड, सीताकुण्ड, राम झरोखा मन्दिर दर्शन, 22 कुण्ड कूप स्नान, रामेश्वरम् ज्योर्तिलिंग दर्शन।
मदुरैमदुरै सातवां दिन प्राचीन श्री मीनाक्षी देवी मन्दिर दर्शन। सुन्दरेश्वर महादेव मन्दिर।
कन्याकुमारी आठवां दिन कन्याकुमारी मन्दिर दर्शन, सूर्योदय अथवा सूर्यास्त के दर्शन, हिन्द बंगाल, अरब तीनों समुन्द्रों का संगम स्नान, विवेकानन्द शिला स्मारक (स्टेशन से मन्दिर की दूरी 1 किमी है) स्टीमर की व्यवस्था समिति द्वारा होगी।
त्रिवेन्द्रमत्रिवेन्द्रम नवां दिन कोवलम बीच, म्यूज्यिम, तिरूवनन्तपुरम चिड़ियाघर, पद्मनाभम् मन्दिर (विश्व प्रसिद्ध एतिहासिक एवं धनाढ्य मन्दिर) ।
गोवागोवा ग्यारहवां दिन सी कैथेड्रल चर्च, वाम जीसस चर्च, दौना पाउला बीच, कोलबा बीच, शान्ता दुर्गा मंदिर, मंगेश मन्दिर, एन्सैस्ट्रल गोवा।
निजामुद्दीननिजामुद्दीन (दिल्ली) तेरहवां दिन निजामुद्दीन (दिल्ली) पर मधुर स्मृतियों के साथ यात्रा समापन।

यात्रा का किराया:

भोजन, चाय, नाश्ता, बस, स्टीमर सहित द्वितीय श्रेणी शयनयान का किराया 23,000/- प्रति सवारी होगा। अग्रिम बुकिंग हेतु 1.001/- प्रति यात्री नगद अथवा ऑनलाइन ‘श्री शिव शंकर तीर्थ यात्रा’ ऋषिकेश के S.B.I. बैंक खाते में या हमारी किसी भी अधिकृत बुकिंग एजेन्सी पर जमा करवा दें। शेष धनराशि यात्रा प्रारंभ के समय गाड़ी में बैठने के बाद ली जायेगी।

घूमने के लिए बसों की व्यवस्था:

कोणार्कचिन्हित स्थानों पर बसों की व्यवस्था संस्था के द्वारा होगी। यह बस यात्रियों को रेलवे स्टेशन से मन्दिर तक ले जायेगी तथा वहां से घुमाकर वापिस स्टेशन पर लायेगी। जिन स्थानों पर कोणार्क का निशान नहीं है वहाँ पर मन्दिरों की स्टेशन से दूरी नगण्य है इसलिए यात्री (स्वयं के खर्च से) पैदल अथवा रिक्शे से वहाँ जा सकते हैं। इस प्रकार यात्रियों को पैदल बहुत कम चलना पड़ेगा।

भोजन एवं चाय नाश्ताः

यात्रियों के लिए यात्रा काल में सुबह की बेड टी, चाय-नाश्ता व दोपहर एवं रात्रि भोजन। भोजन में एक दाल, एक सब्जी, चावल, रोटी का पूरा प्रबन्ध होगा। शाम को चाय दी जायेगी। रोटी, दाल एवं चावल में देशी घी का प्रयोग होगा एवं नाश्ता, सब्जी एवं पूरी में रिफाइण्ड का प्रयोग होगा। चावल बासमती दोनों समय बनाया जायेगा। समय की उपलब्धता के आधार पर यात्रियों को अचार, पापड़, मीठा, सलाद भी भोजन के साथ दिया जायेगा। प्याज व लहसुन का प्रयोग वर्जित होगा। भोजन, लकड़ी के चूल्हे में शुद्ध शाकाहारी बनाया जायेगा। दोपहर एवं रात्रि को खाने के साथ एक-एक मिनरल वाटर की बोतल यात्रियों को दी जायेगी ।

आवश्यक सामान:

यात्री अपने साथ दो पासपोर्ट साइज फोटो, कोविड वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट, वोटर कार्ड, आधार कार्ड की फोटो कापी व ऑरिजनल साथ में अवश्य लावें। कृपया प्रत्येक यात्री अपने साथ में एक गिलास, एक चम्मच, प्लास्टिक की बाल्टी, मग्गा, टार्च व एक प्लास्टिक की सीट (3X3 फुट का) कपड़े धोने व नहाने के वास्ते, एक प्लास्टिक की रस्सी कपड़े सुखाने हेतु, बिस्तर (मौसम के अनुसार) अवश्य लायें।

सुरक्षाः

यात्रियों के सामान की सुरक्षा हेतु, ट्रेन में चाय, नाश्ता, भोजन बनाने व घुमाने के लिए पर्याप्त व्यक्तियों का प्रबन्ध समिति द्वारा रहेगा। कोई भी यात्री सोने व चांदी के जेवर पहनकर न आये। यात्राकाल के दौरान आर्थिक, शारीरिक क्षति एवं यात्री के सामान की जिम्मेदारी यात्री की स्वयं की होगी। व्यवस्थापक यात्रियों के नुकसान का जिम्मेदार नहीं होगा।

शयन सुविधा:

रेल यात्रा में प्रत्येक यात्री को सोने के लिए पूरी बर्थ की व्यवस्था होगी। कम्पार्टमेन्ट में कोई तख्ता सीटों के बीच में नहीं लगाया जायेगा। प्रत्येक डिब्बा थ्री टायर स्लीपर क्लास होगा। यात्री ट्रेन यात्रा हेतु अपने साथ (मौसम अनुसार) बिस्तर लायें। जहां पर ट्रेन नही होगी वहां यात्रियों के रात में ठहरने की व्यवस्था (गेस्ट हाउस/होटल) में समिति द्वारा की जायेगी।

सामान्य चिकित्सा एवं मोबाइल चार्जिंग सुविधाः

हमारी यात्रा में केवल सामान्य चिकित्सा की ही व्यवस्था होगी। जो यात्री नियमित रूप से दवाई लेते हैं वे यात्री यात्रा प्रोग्राम के दिनो के अनुसार कृपया अपनी दवाईयां साथ में लावे। यात्रा काल में यात्री को आवश्यकता पड़ने पर यात्री के खर्चे पर अस्पताल/डाक्टर की व्यवस्था संस्था करायेगी। यात्रा काल में आकस्मिक दुर्घटना व प्राकृतिक आपदा से क्षतिपूर्ति के लिये यात्री स्वयं जिम्मेदार होगे। प्रत्येक डिब्बे के प्रत्येक केबिन में मोबाइल चार्ज हेतु बोर्ड लगा होंगा परन्तु मोबाइल सुरक्षा की जिम्मेदारी यात्री की स्वयं की होगी ।

वृद्धजन व अकेली महिलाः

हमारी यात्रा में अकेले वृद्धजन व महिलाएं भी आराम से यात्रा कर सकती हैं। क्योंकि यात्रा का माहौल घर-परिवार जैसा ही रहता है जिस कारण अकेलापन महसूस नहीं होगा।

LTC/LFC:

इसकी सुविधा प्राप्त करने वाले यात्रियों को यात्रा की रसीद, यात्रा का प्रमाण पत्र व रेलवे द्वारा यात्रा प्रोग्राम की कॉपी उपलब्ध करायेंगे परन्तु एल.टी.सी. दिलाने की जिम्मेदारी संस्था की नही होगी।

यात्रा किरायाः

यात्रियों को चाहिए कि प्रत्येक यात्री अपनी बकाया धनराशि देने के वास्ते अपने साथ नकद रूपया अथवा किसी भी बैंक का ड्राफ्ट/ चैक ‘‘श्री शिवशंकर तीर्थ यात्रा (रजि0)’’ के नाम पर ऋषिकेश शाखा का बनवाकर साथ में लावें।

रेलवे विभाग द्वारा स्पेशल यात्रा के वास्ते जो भी नियम बनाये गये हैं (सामान के वास्ते व रेलवे टाईम टेबिल के वास्ते) उनका पूर्ण रूप से यात्रियों को पालन करना अनिवार्य होगा। प्रत्येक विवाद का न्यायक्षेत्र केवल ऋषिकेश (देहरादून) होगा। उपभोक्ता समिति के अन्तर्गत आने वाले विवाद का भी न्यायक्षेत्र ऋषिकेश (देहरादून) ही होगा।

यात्रियों से अनुरोध है कि अपनी बुकिंग कराने के पश्चात् हैड ऑफिस में अवश्य सूचना दें ताकि किसी भी प्रकार की त्रुटि होने की संभावना ना हो। यात्री सीट बुक कराते समय संस्थापक स्व0 लाला शिवचरण लाल अग्रवाल का नाम, फोटो एवं यात्रा संस्था का नाम सावधानी पूर्वक पढ़कर ही सीट बुक करवायें।

प्रत्येक यात्री टाईम टेबल के अनुसार चलने को बाध्य होंगे, यदि किसी कारणवश कोई गु्रप से अलग होता है तो अगले स्टेशन/गन्तव्य पर यात्री अपने खर्चे पर पहुचेगें।

संक्रमक रोगी, मादक पदार्थों का सेवन करने वाले अथवा झगडालू यात्री को यात्रा से पृथक करने का पूर्ण अधिकार व्यवस्थापक का होगा।

यदि कोई यात्री किन्हीं कारणवश अथवा अस्वस्थ होने की वजह से अपनी यात्रा अधूरी छोड़कर घर वापिस आना चाहेगा तो उस अवस्था में यात्री को व्यवस्थापक की तरफ से केवल घर तक पहुंचाने हेतु रेलवे का थ्री टायर स्लीपर क्लास टिकिट ही दिया जायेगा। किराया वापसी किसी भी अवस्था में देय नहीं होगा। यह व्यवस्था केवल यात्रा समाप्ति के 5 दिन पूर्व तक लागू होगी।

यात्रा में ट्रेन की उपलब्धता, समय के आधार पर निर्भर होती है अतः रेल के देर से पहँुचने, फ्लाइट लेट होने / बस खराब होने/ रेलवे द्वारा बदलाव/ मौसम खराब होने/साप्ताहिक अवकाश/ बन्द/ रैली आदि के कारण सें किसी स्थान पर दर्शन ना होने पर संस्था/ व्यवस्थापक द्वारा कार्यक्रम में जो भी बदलाव किया जायेगा, यात्रियों से निवेदन है कि परिस्थतियों को समझते हुए उसमें अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करें।

यात्रा काल में मैनेजर यात्रियों को अधिक से अधिक सुविधा देने की कोशिश करेंगे परन्तु फिर भी यात्रा के दौरान थोड़ी असुविधा होना स्वाभाविक है। उस समय ‘परदेश नरेश कलेशन’ की कहावत के अनुसार तपस्या की भावना से उसे सहन करें व व्यवस्थापक को पूर्ण सहयोग प्रदान करें। मुद्रण में किसी भी प्रकार की त्रुटि के वास्ते क्षमा करें।

यात्रा रद्द करने के नियमः- यदि कोई यात्री अपनी सीट बुक कराकर किसी भी कारणवश सीट कैंसिल करवाना चाहे तो यात्रा की रवानगी की तारीख को छोड़कर उससे 12 दिन पूर्व तक लिखित सूचना देने पर सीट कैंसिल कर अग्रिम धनराशि (रेलवे रिर्जवेशन का कैंसिलेशन शुल्क काटकर) वापिस कर दी जायेगी। रवानगी की तारीख को छोड़कर उससे 12 दिन पूर्व तक लिखित सूचना प्राप्त नहीं होने पर अग्रिम धनराशि वापिस नहीं की जायेगी। यदि बुकिंग यात्रा दिनांक को छोड़कर अन्तिम 12 दिनों में ही की गई है और यात्री अपनी सीट केन्सिल करवाता है तो अग्रिम धनराशि वापिस नही की जायेगी। यदि यात्रा दिनांक का छोड़कर 5 दिन पूर्व तक यात्री द्वारा यात्रा निरस्त की जाती है तो उस स्थिति में यात्री से यात्रा का सम्पूर्ण किराया लेने का कानूनी रूप से अधिकार संस्था को होगा। इसमें किसी भी प्रकार की रियायत नही होगी।

आपके पास कोई प्रश्न है?

हमें कॉल करने में संकोच न करें। हम एक विशेषज्ञ टीम हैं और हम आपसे बात करके खुश हैं।

9997846483

तीन धाम 11 ज्योतिर्लिंग तीर्थ यात्रा - 33 दिन

मुख्य आकर्षण : 11 ज्योतिर्लिंग, किशोर धाम, गंगा सागर, नेपाल, काठमांडू


प्रस्थान : 9 अप्रैल, 14 मई व 2 जुलाई 2023 एवं 07 जनवरी 2023


Call Us View More

1 धाम जगन्नाथपुरी गंगासागर तीर्थ यात्रा - 15 दिन

मुख्य आकर्षण : जगन्नाथ पुरी धाम, बैजनाथ धाम, गंगासागर,अयोध्या, इलाहाबाद


प्रस्थान : 20 फरवरी 2023


Call Us View More

एक धाम द्वारिका पुरी धाम - 12 दिन

मुख्य आकर्षण : द्वारिका पूरी धाम, सप्त ज्योतिर्लिंग, स्टेचू ऑफ यूनिटी


प्रस्थान : 08 अक्टूबर 2022


Call Us View More

ब्रज चैरासी कोस यात्रा - 10 दिन

मुख्य आकर्षण : मथुरा, वृन्दावन, नन्दगाँव, बरसाना, गोवर्धन परिक्रमा, ब्रजचैरासी कोसद्ध की यात्रा


प्रस्थान : 9 नवम्बर 2022


Call Us View More

Clients Say

Best of the best facilities in Yatra. Very very coprative & friendly staff. Break fast, lunch & denner very remarkable. We had two time journey with this yarta company.

Pramod kumar Sharma

The staff is very nice and they take care of all the yatri the meal is very delicious.All suvidhaye are best they give milk and tea also in morning and evening.

Diya Batra

Fabulous Organization... You should join them they serve awesome food and I have great experience with them.

Kailash Agrawal

Why Choose Us

ISO Certified Organization Serving Since 1967

Special Care for Senior citizens.

Well Trained Employees

More than 50 Years Oldest Organization.

Bhajan and Satsang Facility in Running Train.

Arrangement of Bus and Other Vehicle Facility.

Hygienic Food Facility.

LTC Facility.

Full Security Facility.

Get In Touch

Yatra Company

We conduct pilgrimage in an organized manner in which the pilgrims are provided good quality food, Satsang programmes, medical facilities.

Channel Partners

Call Us
Whatsapp